Breaking News
Home / बिज़नेस

बिज़नेस

Ut wisi luctus ullamcorper. Et ullamcorper sollicitudin elit odio consequat mauris, wisi velit tortor semper vel feugiat dui, ultricies lacus. Congue mattis luctus, quam orci mi semper

बेरोजगार युवक/युवतियों को मिलेगा रोजगारः डीएम।

गौतमबुद्धनगर
(Facewaeta)जिलाधिकारी बीएन सिंह ने जनपद के समस्त बेरोजगार युवक/युवतियों का आहवान करते हुये जानकारी दी है कि जनपद में जिला सेवायोजन कार्यालय के माध्यम से आगामी दिनाॅक 29 सितम्बर, 2018 को जिला सेवायोजन कार्यालय सूरजपुर में प्रातः 11 बजे रोजगार मेले का आयोजन किया जायेगा। आयोजित होने वाले मेले में 4 कम्पनियों के प्रतिनिधियों के द्वारा भाग लिया जायेगा। आयोजित मेले में हाईस्कूल, इण्टरमीडिएट, बी0ए0, एम0ए0 तथा आईटीआई(फिटर, मशीनिष्ट, टर्नर, इलेक्ट्रीशियन) परीक्षा में अर्हता रखने वाले युवक युवतियों का चयन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि आयोजित मेले मंे भाग लेने के लिए अभ्यर्थी की आयु 18 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
ऐसे सभी पात्र युवक/युवतियाॅ जिन्हांेने अपना पंजीकरण सेवायोजन विभाग के पोर्टल www.sewayojna.up.nic.in पर कराया हुआ है और जिन्हांेने अपना आवेदन सेवायोजन पोर्टल पर प्रदर्शित रिक्तियों के अनुसार किया हुआ है, ऐसे सभी आवेदक अपने शैक्षिक मूल प्रमाण पत्रों के साथ जिला सेवायोजन कार्यालय सूरजपुर ग्रेटर नोएडा गौतमबुद्धनगर में आयोजित रोजगार मेले में भाग लें सकतें है तथा मेले मे भाग लेने के लिए कोई यात्रा भत्ता देय नही होगा।

भारत वर्ष का खुदरा व्यापारी अत्यधिक संकट मे है- नरेश कुच्छल

नोएडा। विभागों की ज्यातियों एवं जटिलताओं के खिलाफ भारत वर्ष का खुदरा व्यापारी अत्यधिक संकट मे है और उसका व्यापार निरंतर घटता जा रहा है कन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स सहित अन्य व्यापारी संस्थाएँ सामूहिक रूप से जीएसटी, एफडीआई, मण्डी शुल्क, सेमपुलिंग, आयकर, आन लाइन ट्रेडिंग की जटिलताओं के खिलाफ 28 सितंबर को शांतिपूर्ण भरण बंद के आह्वान को लेकर नत्थू स्वीट्स सेक्टर 18 मे प्रेसवार्ता के दौरान यह बात जिला अध्यक्ष नरेश कुच्छल ने कही। उन्होंने बताया कि बंद लेकर बाज़ारो मे संपर्क हेतु टीमो का गठन किया गया है

जो व्यापारियों को हमारी मांगो से अवगत कराएंगे इसके तहत उद्योग मंच अध्यक्ष अजय मल्होत्रा को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है । उद्योग मंच अध्यक्ष अजय मल्होत्रा ने बताया कि बंद के बाबत महामंत्रियों से विचार विमर्श कर 2 टीमो का गठन किया गया है। जो वरिष्ठ महामंत्री मनोज भाटी एवं महामंत्री राकेश गुप्ता के नेतृत्व मे 25,26 सितंबर को बाज़ारो का दौरा करेंगे । चैयरमेन रामावतार सिंह ने बताया कि 27 सितंबर को हर बाज़ारो मे मसाल जुलूस निकाला जायेगा जिसमे जिले के हर बाज़ारो से व्यापारी संस्थाए भाग लेंगी ओर 28 सितंबर को जिलाधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री के नाम 11 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा जायेगा।
इस अवसर पर सुधीर सिंघल, अजीम अली खान, महामंत्री संदीप चौहान, बाबुलाल बंसल, आर.के.रेवाड़,अध्यक्ष गुड्डू यादव, अजय मल्होत्रा, महामंत्री दिनेश महावर, कोषाध्यक्ष मूलचन्द गुप्ता, महामंत्री एस. एन. गोयल, सहित अन्य व्यापारी मौजूद रहे ।

एन.आई.ई.टी., ग्रेटर नोयडा संस्थान में मेकैनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आयोजित “वेल्डिंग तकनीकी में विकास” विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का समापन

एन.आई.ई.टी., ग्रेटर नोयडा संस्थान में मेकैनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आयोजित “वेल्डिंग तकनीकी में विकास” विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का समापन हुआ । आज जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली के वरिष्ठ प्रोफेसर डॉ अरशद नूर सिद्दीकी ने फ्रिक्शन स्टिर प्रोसेसिंग विषय पर अपनी नई खोज को प्रतिभागियों के साथ साझा किया । यह तकनीक सरफेस इंजीनियरिंग के क्षेत्र में क्रांतिकारी तकनीक साबित हुई है । इसके प्रयोग से पदार्थ की उन विशेषताओं को प्राप्त किया जा सकता है जिन्हें दूसरे किसी प्रक्रम से पाना आसान नहीं है । तकनीकी सेशन में गलगोटिआ विश्वविद्यालय के प्रो एस. एन. सतपति और डॉ एस. एल. वर्मा की उपस्तिथि में शोधार्थियों ने अपने शोध प्रस्तुत किये ।

अंतिम सेशन में आई. आई. टी. दिल्ली के प्रोफेसर और संत लोंगोवाल संस्थान के भूतपूर्व कुलपति डॉ सुनील कुमार पांडेय ने अपने गहन ज्ञान से सभी शोध कार्यों को राष्ट्र निर्माण के लिए केंद्रित करने पर बल दिया । उन्होंने विकसित राष्ट्र निर्माण में शोध की भूमिका को गहराई से समझाया । क्रॉस कंट्री पाइपलाइन वेल्डिंग पर उनके शोध प्रस्तुति ने सभी प्रतिभागियों को मंत्र मुग्ध कर दिया ।
कांफ्रेंस का अंतिम चरण पोस्टर प्रस्तुत करने वाले प्रतिभागियों के नाम रहा । प्रो एस. एल. वर्मा, प्रो संजय गैरोला और प्रो विजय कुमार पांडेय के निर्णायक मंडल ने पोस्टर प्रस्तुत करने वाले सभी शोधकर्ताओं से उनके शोध और उद्योग विकास में उनकी भूमिका को द्रष्टिगत रखते हुए प्रश्न किये, जिसके आधार पर सर्वश्रेष्ठ पोस्टर का सम्मान गर्वित और गौरी शंकर के पोस्टर को मिला, द्वितीय स्थान कुंदन चौधरी को मिला तथा तृतीय स्थान कपिल भाटी, साकिब खान और फैज़ अंसारी के पोस्टर को मिला । विजेताओं को 2000, 1500 और 1000 की नकद धनराशि पुरुष्कार स्वरुप प्रदान की गयी । कांफ्रेंस में सर्वश्रेष्ठ शोध पत्र प्रस्तुति का सम्मान निर्णायक मंडल द्वारा कुंदन चौधरी को लेज़र बीम वेल्डिंग पर प्रस्तुत शोध संकलन के लिए दिया गया ।
इस अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक डॉ पी. पचौरी, सहसंयोजक प्रो चन्दन कुमार, निदेशक डॉ अजय कुमार, प्रो० सोमेश कुमार, प्रो० विनीत कुमार, प्रो० चंद्र शेखर यादव, प्रो एस एल वर्मा, प्रो वी के पांडेय, प्रो संजय गैरोला, डॉ गौरव, डॉ रेशम, डॉ श्वेता नागा तथा शिक्षकगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अंत में प्रो० चन्दन कुमार ने कांफ्रेंस आयोजन के लिए सहयोग करने के लिए डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम विश्वविद्यालय, संस्थान से प्रबंधन और आए हुए सभी अतिथियों को धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया

एन.आई.ई.टी., ग्रेटर नोयडा संस्थान में मेकैनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आयोजित “वेल्डिंग तकनीकी और अनुसंधान क्षेत्र में विकास” विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का शुभारम्भ

ग्रेटर नोयडा एन.आई.ई.टी., ग्रेटर नोयडा संस्थान में मेकैनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा आयोजित “वेल्डिंग तकनीकी और अनुसंधान क्षेत्र में विकास” विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का शुभारम्भ हुआ । इस कांफ्रेंस का उद्देश्य “अग्रिम वेल्डिंग तकनीकों ” के क्षेत्र में काम कर रहे प्रोफेसर और इंडस्ट्री के शोधकर्ताओं और विचारकों को एक साथ लाना है।

कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन और सरस्वती वंदना के साथ हुआ । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि इस्जैक हैवी इंजीनियरिंग लिमिटेड में कॉर्पोरेट प्लानिंग के हैड श्री प्रवीण सुनेजा ने समझाया कि इंडस्ट्री में वेल्डिंग की भूमिका कितनी अहम् है इस बात को समझना युवा वैज्ञानिकों के लिए बेहद जरूरी है एक प्रेशर टैंक में होने वाला रिसाव हजारों लोगों की जान ले सकता है । आज कोई भी बड़ा स्ट्रक्चर बिना वेल्डिंग के नहीं बन सकता, इसलिए इस तकनीकी की बारीकियों को समझना बेहद जरूरी है और इसे कांफ्रेंस के दौरान रिसर्च उपलब्धियों को साझा कर ही समझा जा सकता है । उन्होंने एक तकनीकी विशेष पर राष्ट्रीय सम्मेलन की तारीफ़ करते हुए प्रतिभागियों को उत्साहित किया । कार्यक्रम में आई आई टी रूडकी के प्रो अपूर्व शर्मा मुख्य विशेषज्ञ वक़्ता रहे । डा. अपूर्व शर्मा ने माइक्रोवेव तकनीकी के व्यावसायिक प्रयोगों से छात्रों को अवगत कराया । डॉ अपूर्व शर्मा ने माइक्रोवेव वेल्डिंग के माध्यम से पाइपों को जोड़ने की अपनी रिसर्च उपलब्धी से प्रतिभागियों को परिचित कराया । तकनीकी को कैसे साधें और नयी वेल्डिंग तकनीक कैसे विकसित करें, पर प्रकाश डालकर उन्होंने युवा वैज्ञानिकों में नयी ऊर्जा का प्रवाह कर दिया । कार्यक्रम के दूसरे मुख्य वक़्ता नेताजी सुभाष इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, दिल्ली के डीन डॉ सचिन माहेश्वरी ने वेल्डिंग तकनीकी के क्षेत्र में क्रन्तिकारी उपलब्धियों और आने वाले भविष्य में उनके उपयोग के बारे में बताया। उन्होंने वेल्डिंग क्षेत्र में ऑटोमेशन तकनीकी और नए पदार्थों के विकास और प्रयोग बारे में भी विस्तार से बताया। संस्थान के कार्यकारी उपाध्यक्ष श्री रमन बत्रा ने वेल्डिंग क्षेत्र में इन्नोवेशन की महत्ता से आए हुए श्रोतागणों को परिचित कराया । उन्होंने विश्व प्रसिद्द बुर्ज खलीफा बिल्डिंग के निर्माण में प्रयुक्त वेल्डिंग और आने वाली बाधाओं की बारीकियों से उपस्थित सभी श्रोताओं को विषय की गहनता से परिचित कराया । इस सम्मेलन में शोधकर्ताओं ने 84 शोधपत्र भेजे, जिनमे से 32 शोधपत्रों को प्रस्तुती के लिए चुना गया था । प्रो प्रवीण पचौरी ने कांफ्रेंस के उद्देश्य के बारे में जानकारी दी और निदेशक डॉ अजय कुमार ने आए हुए सभी अतिथि और वक्ताओं को पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया एवं भविष्य में होने वाले कार्यक्रमों के लिए भी संस्था की तरफ़ से सभी अतिथियों को आमंत्रित किया। इस अवसर पर कार्यक्रम के सहसंयोजक प्रो चन्दन कुमार, प्रो० सोमेश कुमार, प्रो० विनीत कुमार, प्रो० चंद्र शेखर यादव, प्रो एस एल वर्मा, प्रो वी के पांडेय, प्रो संजय गैरोला, डॉ गौरव, डॉ रेशम, डॉ श्वेता नागा एवं विभाग के सभी शिक्षकगण और सभी विभागों के विभागाध्यक्ष उपस्थित रहे। शाम को प्रतिभागियों के लिए रंगारंग संगीत सभा का आयोजन भी किया गया । अंत में प्रो० एस एल वर्मा ने आए हुए सभी अतिथियों को धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया ।

ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर व्यापारियों मे रोष : नरेश कुच्छल

नोएडा। शहर के मिनी कनॉट प्लेस के नाम से जानी जाने वाली सेक्टर 18 एवं हर वर्ग के लिए प्रख्यात सेक्टर 27 की मार्किट मे चरमराई ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर आज उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नोएडा इकाई एवं सेक्टर 18 के स्थानीय व्यापारियों ने जिला अध्यक्ष नरेश कुच्छल की अध्यक्षता में ट्रैफिक अधीक्षक अनिल झा से मुलाकात की ओर जल्द से जल्द समस्याओं के निराकरण हेतु ज्ञापन सौंपा। जिला अध्यक्ष नरेश कुच्छल ने कहा कि शहर के बाज़ारो मे ट्रैफिक नियंत्रण की व्यवस्था ध्वस्त होती जा रही है। व्यापारी संगठनों की बिना सहमति के आये दिन नये कानून बाज़ारो मे लागू किये जा रहे हैं जिससे व्यापारी वर्ग निराश है।

आगामी माह मे आने वाले त्योहारों के मद्दे नजर बाज़ारो मे आवागमन की स्तिथि मे सुधार लाना अति आवश्यक है । सेक्टर 27 अट्टा मार्किट मे ट्रैफिक विभाग द्वारा डायवर्जन किया गया है जिसके फलस्वरूप सेक्टर 18 मेट्रो स्टेशन से चाइना कट तक गाड़ियों की लंबी कतारें लग रही है और भयंकर जाम की स्तिथि देखने को मिल रही है । सेक्टर 18 एवं 27 सहित अन्य सभी बाज़ारो मे ट्रैफिक व्यवस्था के सुधार हेतु व्यापारी संगठनों के साथ विचार विमर्श करने के उपरांत ही कोई कार्यवाही व नियम लागू किये जायें ताकि व्यवस्था खराब ना हो । व्यापारी नवदीप ने कहा कि डायवर्जन को समाप्त किया जाना चाहिए ताकि ट्रैफिक जाम से राहत मिल सके ओर खरीदार बाजार तक पहुंच सके क्योंकि जाम की स्तिथि मे खरीदार मॉल जाना पसंद करता है सेक्टर 18 आने की अपेक्षा। पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक अनिल झा ने आश्वाशन दिया कि सर्वे कराकर जल्द इस समस्या का समाधान करवाया जायेगा । इस अवसर पर गुड्डू यादव, एस के दुआ, नवदीप, प्रवक्ता चंद्रप्रकाश गौड़, महामंत्री मनोज भाटी, महामंत्री संदीप चौहान,दिनेश महावर, चैयरमैन रामावतार सिंह, विनोद सिंह, सत्यनारायण गोयल, सुनील कुमार, आजम अली सहित अन्य व्यापारी मौजूद रहे।

एसआईबी के नाम पर ना हो भ्रटाचार :- नरेश कुच्छल।

नोएडा। वाणिज्य कर विभाग द्वारा की जा रही छापे मारी की कार्यवाही से व्यापारी वर्ग की नाराजगी को लेकर आज उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नोएडा इकाई के एक प्रतिनिधि मंडल द्वारा अपर आयुक्त अरविंद कुमार एवं अपर आयुक्त एसआईबी धर्मेंद्र कुमार से मुलाकात की ओर नाराजगी व्यक्त की। जिला अध्यक्ष नरेश कुच्छल ने कहा कि इस तरह की कार्यवाही करके व्यापारियों मे भय का माहौल ना बनाया जाये ओर छापे मारी के नाम पर हो रहे भ्रटाचार को रोका जाये ताकि व्यापारी वर्ग को राहत मिल सके नोएडा जैसे शहर मे व्यापारियों पर इस तरह की कार्यवाही उचित नही हैं । उन्होंने कहा कि अधिकतर व्यापारियों को पूर्ण ज्ञान नही है ऐसी कार्यवाही से पूर्व व्यापारियों के लिए हर बाज़ारो मे कैम्प लगाये जाएं और उन्हें उपयोगी दस्तावेजों की पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई जाये । महामंत्री संदीप चौहान ने कहा कि व्यापार मंडल द्वारा लिखित आपत्तियों पर ध्यान देने के बजाय विभाग द्वारा व्यापारियों का उत्पीड़न लगातार जारी है जो अशोभनीय है। अपर आयुक्त अरविंद कुमार एवं अपर आयुक्त धर्मेंद सिंह ने कहा कि छापे मारी की कार्यवाही ऊपर से मिले इनपुट के आधार पर की जा रही है

इस दौरान देखने मे आया है कि व्यापारियों द्वारा बुक्स का प्रयोग ना के बराबर किया जा रहा है जल्द ही कैम्प लगाकर सभी व्यापारियों को इसकी जानकारी दी जाएगी ताकि किसी भी तरह के दंड से बचा जा सके ओर किसी भी तरह के भ्रस्टाचार हेतु व्यापारी हमे सूचित कर सकता है । जीएसटी के बाद से अभी तक यह पहली कार्यवाही है विभाग व्यापारी वर्ग से आग्रह करता है कि किसी के बहकावे मे ना आकर अपने दस्तावेज पुख्ता रखे उसके लिए जो भी सहायता विभाग द्वारा संभव होगी वह जरूर की जाएगी ।
इस अवसर पर महामंत्री मनोज भाटी, संदीप चौहान, चंद्रप्रकाश गौड़, मूलचन्द गुप्ता, मनोज गोयल, सत्यनारायण गोयल,बाबुलाल बंसल, दिनेश महावर, चैयरमेन रामावतार सिंह,सहित अन्य व्यापारी मौजूद रहे।